Monday, September 23, 2013

हम हैं राही प्यार के...

यूं तो हमारे सितारे सिल्वर स्क्रीन पर प्रेम-सम्बन्ध से विवाह का सफ़र तय करने में ज्यादा वक़्त नहीं लगाते ..लेकिन जब बात निजी जीवन की आती है,तो वे बेहद सोच-समझकर प्रेमी या प्रेमिका को जीवनसाथी बनाने का निर्णय लेते हैं। हालांकि, जब तक वे विवाह की राह पर अग्रसर नहीं होते तब तक उन्हें निजी जीवन में प्रेम-गीत गाने में गुरेज नहीं होता है। सितारे सामान्यतया फ़िल्मी दुनिया से ही प्रेम- सम्बन्ध के साझेदार चुनते हैं ताकि फ़िल्मी करियर की तरफ गंभीर रहते हुए भी वे अपने प्रेम सम्बन्ध को सींच सकें।

फ़िल्मी दुनिया में फल-फूल रहे प्रेम सम्बन्धों की ही एक बानगी है रणबीर कपूर और कट्रीना कैफ का मधुर सम्बन्ध। रणबीर और कट्रीना पिछले चार वर्षों से एक-दूसरे के प्रेम-पाश में बंधे हैं,पर वे अपने प्रेम सम्बन्ध को विवाह के रूप में बदलने का निर्णय नहीं ले पा रहे हैं। इसकी वजह निजी हो सकती है। संभव है,कट्रीना और रणबीर करियर और प्यार के बीच किसी एक को महत्त्व देने का निर्णय नहीं कर पा रहे हों।हालांकि, पिछले दिनों कट्रीना के साथ प्रेम सम्बन्ध को लेकर किये गए सवालों के जवाब में रणबीर ने यह संकेत तो दिया कि कट्रीना उनके जीवन में कितनी महत्वपूर्ण हैं,पर उन्होंने यह भी जता दिया कि विवाह के निर्णय को लेकर वे निश्चिंत नहीं हैं। दरअसल, फ़िल्मी दुनिया में रचे-बसे प्रेमी-प्रेमिका के लिए प्रेम की राहों पर चलना सरल तो हो जाता है,पर साथ में कई चुनौतियाँ भी उनके सामने होती हैं। उनका प्रेम सार्वजानिक हो जाता है। उनके निजी जीवन के पल चर्चा का विषय बन जाते हैं। उनपर विवाह बंधन में बंधने का दबाव अपेक्षाकृत अधिक हो जाता है।

रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण के बीच प्रेम तब पनपा जब दोनों ने साथ-साथ ' राम लीला' की शूटिंग शुरू की। एक-दूसरे के व्यक्तित्व से दोनों प्रभावित हुए। उन्हें एक-दूसरे का साथ अच्छा लगने लगा। सार्वजानिक स्थानों पर साथ-साथ मौजूदगी दर्ज कराने में भी दोनों को कोई गुरेज नहीं है। हालांकि, अपने कथित प्रेम सम्बन्ध को लेकर वे कभी मुखर नहीं हुए हैं। दोनों ने एक-दूसरे से दोस्ती तो स्वीकारी है,पर दोनों अपने प्रेम सम्बन्ध पर औपचारिक मुहर नहीं लगाना चाहते हैं। जहां दीपिका अपने करियर के शिखर पर हैं,वहीँ रणवीर फिल्मों में अपनी स्थिति मजबूत करने के लिए प्रयासरत हैं। ऐसे में,दोनों को पता है कि अपने प्रेम सम्बन्ध को औपचारिक बनाने का यह वक़्त नहीं है। दीपिका कहती हैं,' दीपिका कहती हैं,‘रणवीर सिंह एक बेहद अच्छे इंसान हैं। उनसे मुझे तो क्या, किसी को भी प्यार हो जाए। जब रणवीर सेट पर होते हैं तो सेट का माहौल ही कुछ और होता है। उनका सेंस आफ ह्यूमर कमाल का है। मैं उनके साथ जितना भी समय गुजारती हूं, मुझे बहुत अच्छा लगता है, लेकिन इसका मतलब ये बिल्कुल नहीं है कि मैं उनके प्यार में पागल हूं। रणवीर बहुत अच्छे दोस्त हैं और अच्छी तरह दोस्ती निभाना जानते हैं। जहां तक प्यार का सवाल है तो अभी मैं इस रिश्ते के लिये तैयार नहीं हूं। मैं एक समय में एक ही काम कर सकती हूं और फिलहाल मेरा पूरा ध्यान सिर्फ और सिर्फ अपनी फिल्मों पर है।’ दरअसल,जब अभिनेता-अभिनेत्री प्रेम-पाश में बंधते हैं,तो वे एक-दूसरे की व्यावसायिक व्यस्तताओं और मजबूरियों को भी समझते हैं। एक-दूसरे को सम्मान और समय देते हैं।

जब दो युवा और नवोदित अभिनेता-अभिनेत्री साथ में एक ही फिल्म में अभिनय करते हैं,तो कई बार दोनों एक-दूसरे के प्रति आकर्षित होते हैं। दोनों अच्छे मित्र बन जाते हैं और फिर धीरे-धीरे उनके बीच प्यार का अंकुर फूटने लगता है। जल्द ही उन्हें अहसास होता है कि करियर के शुरूआती दिनों में प्रेम सम्बन्ध के लिए उनके पास वक़्त नहीं है। यदि ख़बरों की मानें तो श्रद्धा कपूर और आदित्य रॉय कपूर भी इन दिनों ऐसा ही महसूस कर रहे हैं। वे एक-दूसरे के करीब तो हैं...पर वे नहीं चाहते कि उनका कथित प्रेम सम्बन्ध चर्चा का विषय बने। श्रद्धा कहती हैं,'आशिकी 2'की शूटिंग के दौरान मैं और आदित्य एक दूसरे के साथ काफी सहज थे और यह फिल्म देखने से पता चलता है। लोग मुझसे कह रहे हैं कि तुम दोनों की जोड़ी कमाल की है। पर्दे के बाहर भी हम काफी अच्छे दोस्त हैं।'

कुछ ऐसे भी अभिनेता-अभिनेत्री हैं जो फ़िल्मी दुनिया की चकाचौंध से दूर अपने प्रेम सम्बन्ध को सींचते हैं। वे किसी फिल्म में साथ काम नहीं करने के बावजूद एक-दूसरे के करीब आते हैं। हरमन बावेजा और बिपाशा बसु की जोड़ी ऐसी ही है। एक पार्टी में दोनों की मुलाकात हुई थी। उस वक्त दोनों के दिल पर लगे जख्म हरे थे। बिपाशा के दिल पर जॉन अब्राहम ने चोट पहुंचाई थी तो हरमन को यह चोट प्रियंका चोपड़ा ने दी थी। दोनों ने एक-दूसरे के जख्म पर मरहम लगाया। चंद मुलाकातें हुईं। दोस्ती हुई। प्यार हुआ। दोनों के परिवार ने भी उनके रिश्ते पर सहमति दे दी है। संभवतः वक़्त की कसौटी पर अपने रिश्ते को परखने के बाद हरमन-बिपाशा विवाह बंधन में बंधने का निर्णय भी ले लें।

जब सितारे अपने रिश्ते के भविष्य को लेकर निश्चिंत रहते हैं,तो वे अपने प्रेम-सम्बन्ध पर औपचारिक सहमति देने से नहीं मुकरते हैं। सोहा अली खान और कुनाल खेमू ऐसे ही प्रेमी युगल हैं। दोनों ने अपने रिश्ते पर औपचारिक मुहर लगा दी है। दोनों में एक-दूसरे को लेकर असुरक्षा की भावना नहीं है। सोहा कहती हैं,' हम जल्द ही एक साथ रहने लगेंगे।हमने मुंबई के खार इलाके में एक मकान ख़रीदा है जिसे अब हम घर बनाएंगे और यही शायद कमिटमेंट है।वह अपना घर किराये पर दे देंगे और मैं भी अपना मौजूदा घर किराये पर दे दूंगी और फिर हमने अपने घर में एक साथ रहेंगे।' प्रेम की डगर पर चल रहे इन अभिनेता-अभिनेत्रियों के बीच प्यार,स्नेह और विश्वास की डोर की मजबूती यूं ही बरकरार रहे....।
-सौम्या अपराजिता

1 comment:

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है...